विजय स्तम्भ (Victory Tower)

विजय स्तम्भ (Vijay Stambh) को Victory Tower तथा कीर्ति स्तम्भ के नाम से भी जाना जाता है । इस भव्य

Read more

महाराणा कुम्भा (Maharana Kumbha)-मेवाड़ का इतिहास

महाराणा कुम्भा (Maharana Kumbha) का जन्म 1423 ई. में मेवाड़ में हुआ । महाराणा कुम्भा को कुम्भकरण के नाम से

Read more

मेवाड़ का इतिहास-महाराणा मोकल( History of Mewar in Hindi )

सन्न 1421 ई. में महाराणा लाखा सिंह की मृत्यु के पश्चात 12 वर्ष की आयु में मोकल को मेवाड़ की

Read more

महाराणा लाखा सिंह/लक्ष सिंह

महाराणा लाखा सिंह 1382 ई. में मेवाड़ के शासक बने । इनके पिता महाराणा क्षेत्र सिंह थे । राणा लाखा

Read more

महाराण क्षेत्र सिंह/महाराणा खेता सिंह

महाराण क्षेत्र सिंह/महाराणा खेता 1364 ई. में मेवाड़ के शासक बने । इनके पिता महाराणा हम्मीर सिंह थे । महाराणा

Read more

राणा हम्मीर सिंह

गुहिल वंश की मुख्य शाखा (रावल शाखा) के पतन के पश्चात सोनगरा चौहानों को पराजित कर हम्मीर सिंह ने 1326

Read more

रावल वंश के शासक (मेवाड़ का इतिहास)

दोस्तों जैसा कि हमने मेवाड़ का इतिहास भाग-1 में बताया था कि गुहिल वंश के शासक राजा रण सिंह (1158

Read more

बप्पारावल~गुहिल वंश(मेवाड़ का इतिहास)

बप्पा रावल का वास्तविक नाम कालभोज था । उनका जन्म 713 ई. में ईडर (उदयपुर) नामक स्थान पर हुआ था

Read more

गुहिलादित्य-गुहिल वंश के संस्थापक(मेवाड़ का इतिहास)

राजा गुहिल को गुहिल वंश/गुहिलोत वंश का संस्थापक माना जाता है । 566 ई. में उसने मेवाड़ में गुहिल वंश

Read more

मेवाड़ का इतिहास ( गुहिल वंशावली )

राजस्थान का वर्तमान स्वरूप 1 नवंबर,1956 को अस्तित्व में आया । इससे पहले राजस्थान में रियासतें हुआ करती थीं ।

Read more
error: Content is protected !!